Exclusive Interview with Mr. Kaushal Kishore, Hon’ble Minister of State, Ministry of Housing and Urban Affairs

वर्त्तमान मोदी सरकार ने समाज के अंतिम पायदान पर खड़े व्यक्ति के जीवन में सकारात्मक बदलाव लाने के लक्ष्य एवं उद्देश्य के साथ कार्य किया है | सबके पास एक आवास हो जिसमें सुबह-शाम चूल्हा जलता हो अर्थात रोजगार एवं आजीविका के साधन हो |

0
190
Shri Kaushal Kishore, MoHUA
Shri Kaushal Kishore, MoHUA
Advertisement

माननीय आवासन और शहरी कार्य राज्य मंत्री श्री कौशल किशोर जी से Symbroj Media, Group के निदेशक एवं मैनेजिंग एडिटर श्री नरेन्द्र शाह के साथ आयोजित एक्सक्लूसिव वन-टू-वन इंटरेक्शन में राज्य मंत्री ने मेक इन इंडिया, आत्मनिर्भर भारत, पीएम गति शक्ति योजना सहित कई मुद्दों पर खुलकर बातचीत की |मंत्रीजी के विशेष अनुरोध पर मेट्रो रेल न्यूज़ के इस अंक में राजभाषा में आयोजित इंटरव्यू हिंदी में ही प्रकाशित किया जा रहा है | इंटरव्यू के समापन पे माननीय राज्य मंत्री ने Symbroj Media से हिंदी में भी पत्रिका प्रकाशित करने की बात कही जोकि Symbroj Media के लिए अत्यधिक प्रेरणास्पद और उत्साहवर्धक शब्द है, जिसके लिए मीडिया ग्रुप मंत्रीजी का आभारी है |  हम आशा करते है कि आने वाले दिनों में भी ग्रुप द्वारा इस प्रकार के इवेंट और कार्यक्रम किये जाते रहेंगे जिसे हम अपनी पत्रिका और वेबसाइट के माध्यम से वर्त्तमान व्यवस्था के तहत नए कलेवर में प्रस्तुत कर सकेंगें | हम आशा करते है कि आने वाले समय में हम बाज़ार मांग के अनुरूप अपने हिंदी भाषी पाठकों के हितों का भी ध्यान रख सकेंगें |

बातचीत के प्रमुख अंश … 

अत्यधिक भीड़-भाड़, व्यक्तित्व अप्रतीति वर्त्तमान में भारतीय समाज की अन्य सामान्य परेशानियों के अतिरिक्त महत्वपूर्ण समस्याएं है | आपके अनुसार इन परिस्थितियों का सर्वश्रेष्ठ उपाय क्या है | सरकार किस प्रकार इन समस्याओं का सामना कर रही है ? 

(Crowding and depersonalisation is one of the crucial problems faced by urban society in India today apart from other common concerns. What in your opinion can be the best solution to the issue. How is the government tackling the situation?)

बहुत सी भीड़ होगी तो आवागमन में भी प्रॉब्लम होगी | इन्हीं सभी बातों को ध्यान में रखते हुए प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना लागू की गयी है, जिससे प्रत्येक गाँव से सड़क की कनेक्टिविटी हो जाए। वर्त्तमान में देश में कनेक्टिविटी की आवश्यकता को ध्यान में रखते हुए कई रिंग रोड, हाईवे का निर्माण किया जा रहा है जिससे शहरों को जाम से मुक्ति मिलेगी | रिंग रोड के निर्माण से लोगों को स्टेट मूवमेंट के लिए शहरों में प्रवेश नहीं करना पड़ेगा जिससे शहरी यातायात सुगम होगा | लगभग सभी महत्वपूर्ण शहरों में मेट्रो प्रस्तावित है | जिससे यातायात में बहुत परिवर्तन होगा | लोग कम पैसे में अधिक दूरी तथा तीव्र गति से सफ़र कर सकेंगें | मेट्रो के परिचालन से निश्चित ही भीड़ को नियंत्रित किया जा सकेगा |

हाल ही मैं मल्टी-मोडल कनेक्टिविटी को ध्यान में रखते हुए प्रधानमंत्री गति शक्ति योजना लागू की गयी है | योजना से परिवहन क्षेत्र के कुछ प्रमुख उपलब्धियों के अतिरिक्त आधारभूत संरचनात्मक परिदृश्य में किस प्रकार के परिवर्तनों की संभावना है ?

(PM Gati Shakti Yojna has been launched recently with a focus on multi-modal connectivity. How is the scheme going to change the infrastructural landscape including some of the major developments of transport sector?)

गति शक्ति योजना वर्त्तमान सरकार की एक महत्वकांक्षी परियोजना है जिससे देश के इंफ्रास्ट्रक्चर विकास के साथ सभी क्षेत्रों में अच्छे परिणाम देखने को मिलेंगे | योजना के क्रियान्वयन से रोजगार को बढ़ावा मिलेगा, विकास को नई गति मिल सकेगी | लॉजिस्टिक इत्यादि पार्कों का निर्माण होगा | जिससे माल-ढुलाई इत्यादि में क्रांतिकारी परिवर्तन होंगें | सेमी स्पीड और हाई स्पीड ट्रेनों के परिचालन से लोग आसानी से एक स्थान से दूसरी जगह आना जाना कर सकेंगें | मल्टी मोडल कनेक्टिविटी के तहत कई विभाग मिलकर काम करेंगें जिससे आत्मनिर्भर और मजबूत भारत का सपना साकार किया जा सकेगा | मेक इन इंडिया का कार्य किया जा सकेगा |

विश्व की चौथी सबसे बड़ी परिवहन व्यवस्था, भारतीय परिवहन उद्योग पिछले कुछ वर्षों में औसतन पंद्रह प्रतिशत सलाना से अधिक की विकास दर के साथ बढ़ रहा है | परिवहन उद्योग के इस विकास दर को आप किस प्रकार देखते है | आवासन और शहरी कार्य में इसके महत्वपूर्ण प्रभावों को देखते हुए आपके अनुसार इस क्षेत्र के आदर्श विकास की स्थिति क्या हो सकती है ?

(The Indian automotive industry, 4th largest in the world is witnessing an average growth of more than fifteen percent annually for last few years in specific. How do you see the growth trend? What in your opinion should be an ideal growth pattern for the sector seeing its intrinsic impact on most of the other sector including urban housing and affairs?)

देखिये सामान्य सी बात है | किसी भी देश की परिवहन व्यवस्था अच्छी होगी, सड़कें बेहतर होंगी तो देश उन्नति करेगा | उदाहरण के तौर अमेरिका अमीर है इसलिए वहां की सडकें बेहतर नहीं है | अमेरिका की सड़कें बेहतर है इसलिए वो अमीर है | जिस देश की आवागमन व्यवस्था अच्छी होती है, लोग आसानी से दूर-दराज के क्षेत्रों से या दूर-दराज के क्षेत्रों में सरलता एवं सुगमता पूर्वक आजीविका या जीविकोपार्जन के अवसरों के तालाश के लिए आ जा सकेंगें वहां विकास की संभावनाएं होती है | कम समय में मूवमेंट, सुविधाओं की उपलब्धता, ये सभी तीव्र विकास सुनिश्चित करते है | भारत में परिवहन विभाग एक अच्छा काम कर रहा है | हमारा लक्ष्य है कि देश के सभी इलाकों सड़कों से अच्छी कनेक्टिविटी हो, उन्हें सड़कों से जोड़ दिया जाये | हमारी सरकार का इस पर प्रयास जारी है और पूर्व की अपेक्षा हम एक बेहतर दिशा में आगे बढ़ रहे हैं |

न्यू इंडिया, मेक इन इंडिया, आत्मनिर्भर भारत के प्रयासों के मध्य सरकार की  सामूहिक यातायात और अपशिष्ट प्रबंधन जैसे विषयों में भविष्य की चुनौतियों को लेकर क्या योजना है ?

(Amidst efforts for New India, Make in India, Atmnirbhar Bharat, how is the government preparing itself for mass transit and waste management which appears to be sector of greater concern and priority?)

सामूहिक यातायात और अपशिष्ट प्रबंधन आत्मनिर्भर भारत की प्रमुख चुनौतियों में एक है, वर्त्तमान में ये चुनौतियाँ बड़ी है और आत्मनिर्भर भारत के जरिये इसका समाधान किया जा सकेगा | आत्मनिर्भर भारत जिसपर तत्कालीन सरकारों को बहुत समय पहले ही गंभीर प्रयास शुरू कर देना चाहिए था | आज भारत सरकार की प्राथमिकता है | सरकार हर क्षेत्र में मुद्रा लोन और अन्य वित्तीय प्रावधानों के जरिये छोटे-छोटे इकाइयों, मैन्युफैक्चरिंग यूनिटों इत्यादि को प्रोत्साहित कर रही है, जिससे ज्यादा से ज्यादा लोगों को रोजगार के साधन उपलब्ध हो सकें | सामूहिक यातायात और अपशिष्ट प्रबंधन के लिए सामूहिक प्रयास जरुरी है | लोगों का अनुशासित होना और मिल-जुलकर प्रयास करना जरुरी है | सरकार भी इसके लिए कई स्तरों पर प्रयास कर रही है |

दुनिया के कुछ सर्वाधिक अवांछनीय स्लम अभी भी भारतीय उप-महाद्वीप का हिस्सा है | क्या वर्त्तमान सरकार द्वारा दशकों से उपेक्षित इन झुग्गियों एवं बस्तियों के पुनरुद्वार की कोई योजना है?

(Some of the most infamous slums around the globe continue to be a part of Indian sub-continent. Is there any strategy present government is working upon to improve the condition which unfortunately has been unanswered last many decades and years?)

वर्त्तमान मोदी सरकार ने समाज के अंतिम पायदान पर खड़े व्यक्ति के जीवन में सकारात्मक बदलाव लाने के लक्ष्य एवं उद्देश्य के साथ कार्य किया है | सबके पास एक आवास हो जिसमें सुबह-शाम चूल्हा जलता हो अर्थात रोजगार एवं आजीविका के साधन हो | बिजली का बल्ब हो जो चौबीसों घंटे जलता हो, नल हो जिसमें पानी आता हो |अर्थात समाज के अंतिम पायदान पर खड़े व्यक्ति की रोटी, कपड़ा और मकान की प्रारंभिक जरूरतें पूरी हो सकें | इसी कड़ी में प्रधानमंत्री शहरी और ग्रामीण आवास योजना की शुरुआत की गयी है जिसके तहत सभी योग्य लाभार्थियों को आवास उपलब्ध कराये जायेंगे जिससे उन्हें झुग्गे और झोपड़ियों में न रहने पड़े | सरकार इसके लगातार प्रयास कर रही है और आशा है हम इसमें सफल होंगें |  

आपके अनुसार देश में एक आदर्श शहर की स्थिति क्या होनी चाहिए | क्या कोई विशिष्ट परिवर्तन या विशेषीकृत मॉडल है जिसे सरकार इस क्षेत्र में किये जा रहे प्रयासों में समाहित करना चाहती है ?

(What in your opinion an ideal city in the country be like? Is there any specific change or standardised model you are focussing at that needs to be incorporated with present efforts being done for the same?)

सरकार द्वारा 2030 तक सौ स्मार्ट सिटी के विकास का लक्ष्य रखा गया है | बेहतर शहरों के निर्माण के लिए हर संभव प्रयास किये जा रहे है | SBM 2.0 के तहत कचरा मुक्त शहरों का लक्ष्य रखा गया है, जिसमें डोर-टू-डोर कचरा उठाव, सीवरेज ट्रीटमेंट इत्यादि के प्रावधान किये गए हैं | बेहतर जल निकासी, ड्रेनेज सिस्टम का विकास इत्यादि भी इसके महत्वपूर्ण प्रावधान है | हम स्वच्छ जल, जमीन एवं वायु पर काम कर रहे है | सरकार का इस दिशा में निरंतर और प्रयास जारी है |  

क्या देश के सभी मेट्रो में यातायात सुगमीकरण के लिए मंथली पास की व्यवस्था की जा सकती है?

(Can monthly passes be introduced across metro services in the country for transport facilitation?)

उत्तर : देखिये ये एक अच्छी व्यवस्था हो सकती है | चूँकि ये एक नीतिगत प्रश्न है, अतः इसके सभी पक्षों पर विचार करके इस पर किसी प्रकार का निर्णय लिया जा सकता है | आवश्यकता पड़ने पर इस पर विचार किए जा सकता है और सरकार इस पर विचार करने का काम करेगी |

मेट्रो रेल न्यूज़ के बारे में आपके क्या विचार है | पाठकों के लिए कोई संदेश ?

(Please share your views about metro rail news. Any message to our readers?)

उत्तर : एक अच्छी पत्रिका है | इसे आप हिंदी में भी छापिये जिससे ज्यादा से ज्यादा लोग लाभान्वित हो सकें | आप एक अच्छी मैगज़ीन का प्रकाशन कर रहे है जिसके लिए हमारी शुभकामनाएं है | आपके मैगज़ीन के जरिये मैं यही सन्देश देना चाहूँगा की सभी लोग राष्ट्र को सर्वोपरि रख सर्वप्रथम राष्ट्र के बारे में सोचें | सफल, सुदृढ़, साफ़-स्वच्छ एवं आत्मनिर्भर बनाने के बारे में सोंचें | हम सभी के सामूहिक प्रयास से राष्ट्र सशक्त होगा और उन्नति के शिखर पर पहुंचेगा |

Daily Updates from Metro & Railway

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.